Thursday, June 20, 2024
HomeGovernment SchemesNational Farmers Day 2023: जानिए आखिर 23 दिसंबर को ही भारत में...

National Farmers Day 2023: जानिए आखिर 23 दिसंबर को ही भारत में क्यों मनाया जाता है किसान दिवस

National Farmers Day 2023

आज 23 दिसंबर, National Farmers Day है। इस दिन को भारत के पांचवें प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की जयंती के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। चौधरी चरण सिंह को किसानों का मसीहा माना जाता है और उन्होंने किसानों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए।

चौधरी चरण सिंह का जन्म 23 दिसंबर, 1902 को उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले के नूरपुर गांव में हुआ था। वह एक किसान परिवार से ताल्लुक रखते थे और बचपन से ही किसानों की समस्याओं से अवगत थे। उन्होंने किसानों के उत्थान के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया।

चौधरी चरण सिंह ने किसानों के लिए कई महत्वपूर्ण कानून बनाए। उन्होंने 1951 में भूमि सुधार अधिनियम पारित किया, जिसने जमींदारों के शोषण से किसानों को मुक्त किया। उन्होंने 1960 में भूमि जोत अधिनियम पारित किया, जिसने भूमि की अधिकतम सीमा निर्धारित की। उन्होंने 1973 में न्यूनतम समर्थन मूल्य अधिनियम पारित किया, जिससे किसानों को उनकी फसलों के लिए उचित मूल्य मिल सके।

चौधरी चरण सिंह ने किसानों के कल्याण के लिए कई अन्य योजनाएं भी शुरू की। उन्होंने किसानों के लिए कृषि ऋण की सुविधाओं को बढ़ाया। उन्होंने किसानों के लिए सिंचाई सुविधाओं का विस्तार किया। उन्होंने किसानों के लिए कृषि अनुसंधान और शिक्षा के कार्यक्रमों को बढ़ावा दिया।

चौधरी चरण सिंह के प्रयासों से किसानों की स्थिति में काफी सुधार हुआ। उन्हें किसानों का मसीहा माना जाता है और उनकी जयंती को National Farmers Day के रूप में मनाया जाता है।

National Farmers Day के अवसर पर, देश भर में किसानों के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। इन कार्यक्रमों में किसानों को सम्मानित किया जाता है और उनके योगदान को याद किया जाता है।

आज के किसान दिवस पर, हम सभी को किसानों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करनी चाहिए और उनकी मेहनत और लगन का सम्मान करना चाहिए।

National Farmers Day पर सरकार की योजनाएं

सरकार किसानों के कल्याण के लिए कई योजनाएं चला रही है। इन योजनाओं का उद्देश्य किसानों की आय बढ़ाना और उनके जीवन स्तर में सुधार करना है। सस्‍ते लोन से लेकर सब्सिडी तक, किसानों को कई फायदे देती हैं ये सरकारी स्‍कीम्‍स।

यहां कुछ प्रमुख योजनाएं दी गई हैं जो किसानों को लाभ प्रदान करती हैं:

1. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM-KISAN) योजना

यह योजना किसानों को सालाना 6000 रुपये की आय प्रदान करने के लिए शुरू की गई थी। इस योजना के तहत, प्रत्येक लाभार्थी परिवार को सालाना 2000 रुपये की तीन किस्तों में भुगतान किया जाता है।

2. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY)

यह योजना किसानों को फसलों के नुकसान के खिलाफ बीमा प्रदान करती है। इस योजना के तहत, किसानों को फसल के नुकसान के लिए 50% तक का बीमा मिलता है।

3. प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना (PMKSY)

यह योजना किसानों को सिंचाई सुविधाओं में सुधार के लिए सहायता प्रदान करती है। इस योजना के तहत, किसानों को सिंचाई पंप, ट्यूबवेल आदि लगाने के लिए सब्सिडी दी जाती है।

4. प्रधानमंत्री किसान क्रेडिट कार्ड (PM-KCC) योजना

यह योजना किसानों को सस्ते दरों पर कृषि ऋण प्रदान करती है। इस योजना के तहत, किसानों को 3% की ब्याज दर पर ऋण मिलता है।

5. राष्ट्रीय कृषि विकास योजना (NHDP)

यह योजना कृषि के क्षेत्र में बुनियादी ढांचे के विकास के लिए शुरू की गई थी। इस योजना के तहत, किसानों के लिए सिंचाई, कृषि अनुसंधान, कृषि शिक्षा आदि के क्षेत्र में विकास कार्य किए जा रहे हैं।

इन योजनाओं के अलावा, सरकार किसानों के लिए कई अन्य योजनाएं भी चला रही है। इन योजनाओं का उद्देश्य किसानों को आत्मनिर्भर बनाने और उन्हें आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए है।

किसान दिवस का महत्त्व

National Farmers Day
National Farmers Day

भारत में National Farmers Day का महत्त्व इसलिए है क्योंकि इस दिन किसानों के लिए विभिन्न सरकारी स्कीमों का आयोजन किया जाता है। यह स्कीमें किसानों को सस्ते लोन, सब्सिडी, बीमा, तकनीकी सहायता, और उचित मूल्य प्रदान करती हैं। इन स्कीमों के माध्यम से किसानों को अधिक सुरक्षा, बेहतर उत्पादन तकनीक, और वित्तीय सहायता भी प्राप्त होती है।

सरकारी स्कीमों का प्रभाव

इन सरकारी स्कीमों का किसानों पर बड़ा प्रभाव पड़ता है। यह स्कीमें किसानों को विशेष रूप से गरीबी से बाहर निकालने में मदद करती हैं। उन्हें अधिक उत्पादन, अधिक आय, और बेहतर जीवन की संभावना प्राप्त होती है।

चुनौतियों और भविष्य की संभावनाएं

हालांकि, इन स्कीमों को लेकर कुछ चुनौतियों का सामना किया जा रहा है। इन स्कीमों को और भी प्रभावी बनाने के लिए सरकार को नीतियों में सुधार करने की जरूरत है।

समापन

किसानों के लिए सरकारी स्कीमों के लाभों का संक्षेप यह है कि इनसे किसानों को ज्यादा सुरक्षा, उत्पादन, और वित्तीय सहायता मिलती है।

आधारभूत प्रश्न

  1. क्या इन सरकारी स्कीमों का उपयोग हर राज्य में होता है? हाँ, इन स्कीमों का उपयोग भारत के सभी राज्यों में किया जाता है।
  2. क्या किसानों को इन स्कीमों का पूरा लाभ मिलता है? हाँ, सरकारी स्कीमों के माध्यम से किसानों को पूरा लाभ मिलता है।
  3. क्या ये स्कीमें केवल किसानों के लिए हैं या किसी अन्य व्यक्ति को भी लाभ मिलता है? ये स्कीमें मुख्य रूप से किसानों के लिए होती हैं, लेकिन कई बार किसानों के परिवार या संबंधित व्यक्तियों को भी इसका लाभ मिलता है।
  4. क्या इन सरकारी स्कीमों में कोई शर्तें होती हैं? हाँ, कुछ सरकारी स्कीमों में शर्तें होती हैं।
  5. किसानों को इन स्कीमों के लिए कैसे आवेदन करना चाहिए? किसानों को आवेदन करने के लिए अपने स्थानीय बैंक या कृषि विभाग से संपर्क करना चाहिए।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments